• Latest

    भारतीय राजस्व भाषा की जानकारी

    राजस्व भाषा की जानकारी -

    राजस्व भाषा और उनका हिन्दी अर्थ

    1. आबादी देह→ गॉंव का बसा हुआ क्षेत्र ।
    2. मौजा→ ग्राम
    3. हदबस्त →त्हसील में गॉंव का सिलसिलावार नम्बर ।
    4. मौजा बेचिराग →बिना आबादी का गॉंव ।
    5. मिसल हकीयत→ बन्दोबस्त के समय विस्तारपूर्वक तैयार की गई जमाबन्दी ।
    6. जमाबन्दी→ भूमि की मलकियत व बोने के अधिकारों की पुस्तक ।
    7. इन्तकाल →मलकियत की तबदीली का आदेश ।
    8. खसरा गिरदावरी→ खातेवार मलकियत,बोने व लगान का रजिस्टर ।
    9. लाल किताब →गॉंव की भूमि से सम्बन्धित पूर्ण जानकारी देने वाली पुस्तक ।
    10. शजरा नसब→ भूमिदारों की वंशावली ।
    11. पैमाईश →भूमि का नापना ।
    12. गज →भूमि नापने का पैमाना ।
    13. अडडा →जरीब की पडताल करने के लिए भूमि पर बनाया गया माप ।
    14. जरीब →भूमि नापने की 10 कर्म लम्बी लोहे की जंजीर ।
    15. गठठा →57.157 ईंच जरीब का दसवां भाग ।
    16. क्रम →66 ईंच लम्बा जरीब का दसवां भाग ।
    17.  क््रास →लम्ब डालने के लिए लकडी का यन्त्र ।
    18. झण्डी →लाईन की सीधाई के लिए 12 फुट का बांस ।
    19. फरेरा→ दूर से झण्डी देखने के लिए बांस पर बंधा तिकोना रंग बिरंगा कपडा ।
    20. सूए →पैमाईश के लिए एक फुट सरिया ।
    21. पैमाना पीतल →म्सावी बनाने के लिए पीतल का बना हुआ ईंच ।
    22. म्ुसावी→ मोटे कागज पर खेतों की सीमायें दर्शाने वाला नक्शा ।
    23.  शजरा→ खेतों की सीमायें दिखाने वाला नक्शा ।
    24. शजरा किस्तवार→ टरैसिंग क्लाथ या टरैसिंग पेपर पर बना हुआ खेतों का नक्शा
    25.  शजरा पार्चा→ कपउे पर बना खेतों का नक्शा ।
    26. अक्स शजरा →शजरे की नकल (प्रति)
    27. फिल्ड बुक →खेतों के क्षेत्रफल की विवरण पुस्तिका ।
    28. बीघा →40ग40 वर्ग करम त्र4 बीघे का खेत ।
    29. मुरब्बा→ 25 किलों की समूह यानि 200 कनाल
    30. मुस्ततील→ 25 एकड का समूह यानि 200 कनाल
    31. इस्तखराज →नम्बर की चारों भुजाओं की लम्बाई व चौडाई क्षेत्रफल निकालना
    32. रकबा→ खेत का क्षेत्रफल
    33. किस्म जमीन →भूमि की किस्म
    34. जमीन सफावार →खेतों का पृष्ठवार जोड
    35. थ्मजान खातावार →जेतवार जोड
    36. मिजान कुलदेह→ गॉंव के कुल क्षेत्रफल का जोड
    37. जोड किस्मवार →गॉंव की भूमि का किस्मवार जोड
    38. गोशा →खेत का हिस्सा


    39. त्तीमा →खेत का बांटा गया भाग
    40. व्तर →कर्ण
    41. बिसवांसी →57.157 ईंच कर्म का वर्ग
    42. बिसवा→ 20 बिसवांसी
    43. बिघा →20 बिसवा
    44. म्रला →9 सरसाही बारबर 30-1@4 वर्ग गज त्र1@20
    45. क्नाल →20 मरले 605त्र वर्ग गज त्र1@8 एकड
    46. एकड →एक किला (40 करमग 36 करम) 4 बीघे- 16 बिसवेत्र(4840 वर्ग गज)
    47. शर्क →पूर्व
    48. गर्व→ प्श्चिम
    49. जनूब→ दक्षिण
    50. शुमाल→ उत्तर
    51. खेवट→ मलकियत का विवरण
    52. खतौनी→ कशतकार का विवरण
    53. पत्ती तरफ ठोला→ गॉंव में मालकों का समूह
    54. गिरदावर(कानूनगो)→ पटवारी के कार्य का निरीक्षण करने वाला
    55. दफतर कानूनगो →तहसील कार्यालय का कानूनगो
    56. नायब दफतर कानूनगो→ सहायक दफतर कानूनगो
    57. सदर कानूनगो→ जिला कार्यालय का कानूनगो ।
    58. वासल वाकी नवीस→
    राजस्व विभाग की वसूली का लेखा रखने वाला कर्मचारी
    59. मालिक→ भूमि का भू-स्वामी

    60. कास्तकार→ भूमि को जोतने वाला एवं कास्त करने वाला ।
    61. मालक कब्जा →मालिक जिसका शामलात में हिस्सा न हो ।
    62. मालक कामिल→ मालिक जिसका शामलात में हिस्सा हो
    63. शामलात →सांझाी भूमि
    64. शामलात देह→ गॉंव की शामलात भूमि
    65. शामलात पाना →पाने की शामलात भूमि
    66. शामलात पत्ती →पत्ती की शामलात भूमि
    67. शामलात ठौला →ठोले की शामलात भूमि
    68. मुजारा→ भूमि को जोतने वाला जो मालिक को लगान देता हो ।
    69. मौरूसी →बेदखल न होने वाला व लगान देने वाला मुजारा
    70. गैर मौरूसी →बेदखल होने योग्य कास्तकार
    71. छोहलीदार →जिसको भूमि दान दी जावे ।
    72. नहरी →नहर के पानी से सिंचित भूमि ।
    73. चाही नहरी→ नहर व कुएं द्वारा सिंचित भूमि
    74. चाही →क्ुएं द्वारा सिंचित भूमि
    75. चाही मुस्तार →खरीदे हुए पानी द्वारा सिंचित भूमि ।
    76. बरानी→ वर्षा पर निर्भर भूमि ।
    77. आबी →नहर व कुएंे के अलावा अन्य साधनों से सिंचित भूमि ।
    78. बंजर जदीद→ चार फसलों तक खाली भूमि ।
    79. बंजर कदीम →आठ फसलों तक खाली पडी भूमि ।
    80. गैर मुमकिन →कास्त के अयोग्य भूमि ।
    81. नौतौड→ कास्त अयोग्य भूमि को कास्त योग्य बनाना ।
    82.  क्लर →शोरा या खार युक्त भूमि ।
    83. चकौता →नकद लगान ।
    84. सालाना →वार्षिक
    85. बटाई →पैदावार का भाग ।
    86. तिहाई →पैदावार का 1@3 भाग ।
    87. निसफी→ पैदावार का 1@2 भाग ।
    88. पंज दुवंजी→ पैदावार का 2@5 भाग ।
    89. चहाराम →पैदावार का 1@4 भाग ।
    90. तीन चहाराम→ पैदावार का 3@4 भाग ।
    91. मुन्द्रजा→ पूर्वलिखित (उपरोक्त)
    92. मजकूर→ चालू
    93. राहिन →गिरवी देने वाला ।
    94. मुर्तहिन →गिरवी लेने वाला ।
    95. बाया →भूमि बेचने वाला ।
    96. मुस्तरी →भूमि खरीदने वाला ।
    97. वाहिब →उपहार देने वाला ।
    98. मौहबईला →उपहार लेने वाला ।
    99. देहिन्दा→ देने वाला ।
    100. गेरिन्दा →लेने वाला ।
    101. लगान→ मुजारे से मालिक को मिलने वाली राशी या जिंस
    102. पैमाना हकीयत →शामलात भूमि में मालिक का अधिकारी ।
    103. सरवर्क →आरम्भिक पृष्ठ ।
    104. इण्डैक्स→ पृष्ठ वार सूची ।
    105. नक्शा कमीबेशी →पिछली जमाबन्दी के मुकाबले में क्षेत्रफल की कमी या वृद्वि
    106. वाजिबुलअर्ज→ ग््रामवासियों के ग्राम सम्बन्धी रस्में रीति रिवाज ।
    107. थ्वरासत→ उत्तराधिकार ।
    108. मुतवफी →मृत्क
    109. हिब्बा →उपहार ।
    110. बैयहकशुफा →भूमि खरीदने का न्यायालय द्वारा अधिकार ।
    111. श्रहन बाकब्जा →कब्जे सहित गिरवी ।
    112. आड रहन →बिला कब्जा गिरवी ।
    113. रहन दर रहन →मुर्तहिन द्वारा कम राशि में गिरवी रखना ।
    114. सैंकिण्ड रहन →राहिन द्वारा मुर्तहिन के ईलावा किसी अन्य के पास गिरवी रखना ।
    115. फकुल रहन →गिरवी रखी भूमि को छुडा लेना ।
    116. तबादला →भूमि के बदले भूमि लेना ।
    117. बैय →जमीन बेच देना
    118. पडत सरकार →राजस्व रिकार्ड रूम में रखी जाने वाली प्रति ।
    119. पडत पटवार→ रिकार्ड की पटवारी के पास रखी जाने वाली प्रति ।
    120. मुसन्ना→ असल रिकार्ड के स्थान पर बनाया जाने वाला रिकार्ड ।
    121. फर्द →नकल
    122. फर्द बदर →राजस्व रिकार्ड में हुई गलती को ठीक करना ।
    123. मिन →भाग
    124. गिरदावरी →खेतों का फसलवार निरीक्षण ।
    125. जिंसवार →फसलवार जिंसों का जोड
    126. फसल खरीफ →सावनी की फसल
    127. खराबा→ प््रााकृिितक आपदा से खराब हुई फसल ।
    128. फसल रबी→ आसाढी की फसल ।
    129. पुख्ता औसत झाड→ पैदावार के अनुसार पक्की फसल
    130. साबिक→ भूतपूर्व, पूर्व,पुराना ।
    131. हाल →वर्तमान, मौजूदा ।
    132. बदस्तूर →जैसे का तैसा(पूर्ववत)

    133. तकावी →फसल ऋण ।
    134. कुर्की →अटैचमैन्ट
    135. दसतक →राईट आफ डिमाण्ड
    136. नीलाम →खुली बोली द्वारा बेचना ।
    137. बिला हिस्सा →जिसमें भाग न हो ।
    138. मिन जानिब →की ओर से ।
    139. बनाम→ के नाम ।
    140. जलसाआम →जनसभा ।
    141. बशनाखत →की पहचान पर ।
    142. पिसर या वल्द →पुत्र
    143. दुखतर→ सुपुत्री
    144. वालिद→ पिता
    145. वालदा →माता
    146. बेवा →विधवा
    147. वल्दीयत →पिता का नाम
    148. हमशीरा→ बहन
    149. हद→ सीमा
    150. हदूद→ सीमायें
    151. सेहहदा →तीन गॉंवों की एक स्थान पर मिलने वाली सीमाओं पर पत्थर
    152. बखाना कास्त →कास्त के खाने में दर्ज ।
    153. सकूनत→ निवास स्थान
    154. महकूकी →काटकर दोबारा लिखना
    155. मसकूकी →बिना काटे पहले लेख पर दोबारा लिखना
    156. बुरजी→ सरवेरी सर्वेक्षण का पत्थर
    157. चक तशखीश →बन्दोबस्त के दौरान भूमि की पैदावार के अनुसार तहसील की भूमि का निरधारण
    158. दो फसली →वर्ष में दो फसलें उत्पन्न करने वाली भूमि
    159. मेण्ड →खेत की सीमा
    160. गोरा देह भूमि →गॉंव के साथ लगती भूमि
    161. हकदार→ मालिक भूमि
    162. इकरारनामा →आपसी फैसला
    163. खुशहैसियत अ→च्छी हालत
    164. महाल →ग्राम
    165. कलां →बडा
    166. खुर्द →छोटा
    167. जदीद →नया
    168. मालगुजारी →भूमिकर
    169. तरमीम→ बदल देना
    170. गोत→ वंश का गोत्र
    171. जमां →भूमि कर
    172. झलार →नदी नाले से पानी देने का साधन
    173. कारगुजारी →प्रगति रिपोर्ट
    174. खाका →प्रारूप

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad