• Latest

    सामान्य हिन्दी के 280 महत्वपुर्ण प्रश्न - 280 one liner general hindi notes

    280 one liner general hindi notes

    ●  सूरदास का काव्‍य किस भाषा में है।
    उत्‍तर - ब्रजभाषा में ।
    ●  हिन्‍दी साहित्‍य सम्‍मेलन प्रयाग की स्‍थापना कब हुई ।
    उत्‍तर - 1910 में ।
    ● संविधान की आठवीं अनुसूची में उल्‍लेखित भारतीय भाषाओं की संख्‍या है।
    उत्‍तर - 22 ।
    ● हिन्‍दी की विशिष्‍ट बोली ब्रज भाषा किस रूप में सबसे अधिक प्रसिद्ध है।
    उत्‍तर - काव्‍य भाषा ।
    ● देवनागरी लिपि किस लिपि का विकसित रूप है।
    उत्‍तर - ब्राम्‍ही लिपि ।
    ●  रामायण महाभारत आदि ग्रन्‍थ कौन सी भाषा में लिखे गये है।
    उत्‍तर - आर्यभाषा में ।
    ● विद्यापति की प्रसिद्ध रचना पदावली किस भाषा में लिखी गई है।
    उत्‍तर - मैथिली में ।
    ● भारत में हिन्‍दी का संवैधानिक स्‍वरूप है।
    उत्‍तर - राजभाषा । ।
    ● जाटू किस बोली का उपनाम है।
    उत्‍तर - बॉगरू ।
    ●  ''एक मनई के दुई बेटवे रहिन'' यह अवतरण हिन्‍दी की किस बोली में है।
    उत्‍तर - भोजपुरी से । 
    ● क्रिया विशेषण किसे कहते है।
    उत्‍तर - जिन शब्दों से क्रिया की विशेषता का ज्ञान होता है, उसे क्रिया विशेषण कहते है।
    जैसे – यहॉ , वहॉ , अब , तक आदि
    ● अव्यय किसे कहते है।
    उत्‍तर - जिन शब्दों में लिंग , वचन , पुरूष , कारक आदि के कारण कोई परिवर्तन नहीं होता, उन्हें अव्यय कहते है।
    ● अव्यय के सामान्यत: कितने भेद है।
    उत्‍तर - अव्यय के सामान्यत: 4 भेद है।
    1.क्रिया विशेषण
    2.संबंधबोधक
    3.समुच्चोय बोधक
    4.विस्मचयादि बोधक
    ● हिन्दी् में वचन कितने प्रकार के होते है।
    उत्‍तर - हिन्दी् में वचन 2 प्रकार के होते है।
    1.एक वचन
    2.बहुवचन
    ● वर्ण किसे कहते है।
    उत्‍तर - वह मूल ध्वनि जिसका और विभाजन नही हो सकता हो उसे वर्ण कहते है।
    जैसे - म , प , र , य , क आदि
    ● वर्णमाला किसे कहते है।
    उत्‍तर - वर्णों का क्रमबद्ध समूह ही वर्णमाला कहलाता है।
    ● शब्द किसे कहते है।
    उत्‍तर - दो या दो से अधिक वर्णों का मेल जिनका कोई निश्चित अर्थ निकलता हो उन्हे शब्द कहते है।
    ● वाक्य किसे कहते है।
    उत्‍तर - दो या दो से अधिक शब्दों का सार्थक समूह वाक्य कहलाता है।
    ● मूल स्वरों की संख्यां कितनी है।
    उत्‍तर - मूल स्वरों की संख्यां 11 होती है।
    ● मूल व्यंजन की संख्यां कितनी होती है।
    उत्‍तर - मूल व्यंजन की संख्यां 33 होती है।
    ● 'क्ष' ध्‍वनि किसके अर्न्‍तगत आती है।
    उत्‍तर - संयुक्‍त्‍ा वर्ण ।
    ● 'त्र' किन वर्णों के मेल से बना है।
    उत्‍तर - त् + र ।

    ● 'ट' वर्ण का उच्‍चारण स्‍थान क्‍या है।
    उत्‍तर - मूर्धा ।
    ● 'फ' का उच्‍चारण स्‍थान है।
    उत्‍तर - दन्‍तोष्‍ठय ।
    ●  स्‍थूल का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - सूक्ष्‍म ।
    ● शीर्ष का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - तल ।
    ●  शोषक का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - शोषित । 
    ● मृदु का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - कटु ।
    ● कलुष का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - निष्‍कलुष ।
    ●  निर्दय का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - सदय ।
    ●  नीरोग में संधि है।
    उत्‍तर - विसर्ग सन्धि ।
    ● निस्‍तेज में कौन सी संधि है।
    उत्‍तर - विसर्ग संधि ।
    ●  उज्‍जवल का संधि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - उत् + ज्‍वल ।
    ●  बहिष्‍कार का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - बहि: + कार ।
    ●  चयन में कौन सी सन्धि है।
    उत्‍तर - अयादि संधि ।
    ●  अन्‍वय में कौन सी संधि है।
    उत्‍तर - गुण संधि ।
    ●  सच्चिदानंद का संधि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - सत् + चित् + आनंद ।
    ●  उन्‍नति का संधि विच्‍छेद है।
    उत्‍तर - उत् + नति ।
    ●  निर्धन में कौन सी सन्धि है।
    उत्‍तर - विसर्ग सन्धि ।
    ●  सूर्य + उदय का संधयुक्‍त शब्‍द है।
    उत्‍तर - सूर्योदय ।
    ●  किस युग को आधुनिक हिन्दी कविता का सिंहद्वार कहा जाता है।
    ●  भारतेन्दु युग को ।
    ●  द्विवेदी युग के प्रवर्तक कौन थे।
    उत्‍तर - महावीर प्रसाद द्विवेदी ।
    ●  हिन्दी का पहला सामाजिक उपन्यास कौन सा माना जाता है।
    उत्‍तर - भाग्यवती ।
    ●  सन् 1950 से पहले हिन्दी् कविता किस कविता के रूप में जानी जाती थी।
    उत्‍तर - प्रयोगवादी ।
    ●  ब्रज भाषा का सर्वोत्त‍म कवि है।
    उत्‍तर - सूरदास ।
    ●  आदिकाल के बाद हिन्दी में किस साहित्य का उदय हुआ ।
    उत्‍तर - भक्ति साहित्य का ।
    ●  निर्गुण भक्ति काव्य के प्रमुख कवि है।
    उत्‍तर - कबीरदास ।
    ●  किस काल को स्वर्णकाल कहा जाता है।
    उत्‍तर - भक्ति काल को ।
    ●  हिन्दी का आदि कवि किसे माना जाता है।
    उत्‍तर - स्व्यंभू ।
    ●  आधुनिक काल का समय कब से माना जाता है।
    उत्‍तर - 1900 से अब तक ।
    ● जयशंकर प्रसाद की सर्वश्रेष्ठ रचना कौन सी है।
    उत्‍तर - कामायनी ।
    ● बिहारी ने क्या लिखे है।
    उत्‍तर - दोहे ।
    ●  कबीर किसके शिष्य थे।
    उत्‍तर - रामानन्द ।
    ● पद्यावत महाकाव्य कौन सी भाषा में लिखा है।
    उत्‍तर - अवधी ।
    ●  चप्पू किसे कहा जाता है।
    उत्‍तर - गद्य और पद्य मिश्रित रचनाओं को ।
    ● कलाधर उपनाम से कविता कौन से कवि लिखते थे।
    उत्‍तर - जयशंकर प्रसाद ।
    ●  रस निधि किस कवि का उपनाम है।
    उत्‍तर - पृथ्वी सिंह ।
    ●  प्रेमचन्द्र के अधुरे उपन्यांस का नाम है।
    उत्‍तर - मंगलसूत्र ।
    ●  हिन्दी का सर्वाधिक नाटककार कौन है।
    उत्‍तर - जयशंकर प्रसाद ।
    ●  तुलसीकृत रामचरित मानस में कौन सी भाषा का प्रयोग किया गया है।
    उत्‍तर - अवधी भाषा का प्रयोग किया गया है।
    ●  एकांकी के जन्मदाता कौन है।
    उत्‍तर - धर्मवीर भारती ।
    ● मीराबाई ने किस भाव से कृष्ण की उपासना की ।
    उत्‍तर - माधुर्य भाव से ।
    ●  रामचरित मानस का प्रधान रस है।
    उत्‍तर - शान्त रस ।
    ● सबसे पहले अपनी आत्मकथा हिन्दी में किसने लिखी ।
    उत्‍तर - डॉं. राजेन्द्र प्रसाद ने ।
    ●  हिन्दी कविता का पहला महाकाव्य् कौन सा है।
    उत्‍तर - पृथ्वीराज रासो ।
    ●  हिन्दी के सर्वप्रथम प्रकाशित पत्र का नाम क्या है।
    उत्‍तर - उदन्ड मार्तण्ड ।
    ●  हिन्दी साहित्य की प्रथम कहानी है।
    उत्‍तर - इन्दुमती ।
    ●  आंचलिक रचनाऍं किससे सम्बन्धित होती है।
    उत्‍तर - क्षेत्र विषेश से । 
    ● श् , ष् , स् , ह् व्‍यंजन कहलाते है।
    उत्‍तर - ऊष्‍म व्‍यंजन ।
    ●  य् , र् , ल् , व् व्‍यंजन को कहते है।
    उत्‍तर - अन्‍तस्‍थ व्‍यंजन ।
    ●  क् से म् तक के व्‍यंजनों को कहा जाता है।
    उत्‍तर - स्‍पर्श व्‍यंजन ।
    ●  घोष का अर्थ है।
    उत्‍तर - नाद ।
    ●  जिन ध्‍वनियों के उच्‍चारण में श्‍वास जिह्वा के दोनों ओर से निकल जाती है कहलाती है।
    उत्‍तर - पार्श्विक ।
    ●  'आ' स्‍वर कहलाता है।
    उत्‍तर - विवृत स्‍वर ।
    ●  पश्‍च स्‍वर है।
    उत्‍तर - इ , आ ।
    ●  अग्र स्‍वर है।
    उत्‍तर - ऐ ।
    ●  'श्र' व्‍यंजन किन दो व्‍यंजनों से मिलकर बना है।
    उत्‍तर - श् + र ।
    ●  'ड' , 'ढ' का व्‍यंजन वर्ग है।
    उत्‍तर - मूर्धन्‍य -उत्क्षिप्‍त ।
    ●  ओम ध्‍वनि के उच्‍चारण में स्‍वर का कौन सा रूप प्रकट होता है।
    उत्‍तर - प्‍लुत स्‍वर ।
    ●  सघोष वर्णो का सही वर्ग है।
    उत्‍तर - ड , ढ ।
    ● भ्राता का भाववाचक शब्‍द क्‍या होगा ।
    उत्‍तर - भ्रातृत्‍व ।
    ● सीमा दौड़ती है। यहॉ दौड़ती है कैसी क्रिया है।
    उत्‍तर - अर्कमक ।
    ● आशुतोष ने कहा कि मैं पढूँगा । इसमें 'कि मै पढूँगा' क्‍या है।
    उत्‍तर - संज्ञा उपवाक्‍य ।
    ●  सोना - चॉंदी और तेल - पानी किस प्रकार के संज्ञा शब्‍द है।
    उत्‍तर - द्रव्‍यवाचक ।
    ● कृपाण का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - दानी ।
    ● अनुराग का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - विराग ।
    ●  भोगी का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - योगी ।
    ● कीर्ति का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - अपकीर्ति ।
    ●  पृथ्वीराज रासो किस काल की रचना है ।
    उत्‍तर - आदिकाल की ।
    ●  हिन्दी गद्य का जन्म दाता किसको माना जाता है।
    उत्‍तर - भारतेन्दु हरिचन्‍द्र जी को ।
    ●  कवि कालिदास की ‘अभिज्ञान शाकुन्त‍लम्’ का हिन्दी अनुवाद किसने किया।
    उत्‍तर - राजा लक्ष्मणसिंह ने ।
    ●  पद्य साहित्य को कितने भागों में बॉंटा गया है।
    उत्‍तर - पन्द्रह भागों में ।
    ●  कवि नरेन्द्र शर्मा ने राष्ट्र पिता महात्मा गांधी के निधन से प्रभावित होकर कौन सी रचना की ।
    उत्‍तर - रक्त चन्दन की रचना की ।
    ● नाट्यशास्त्रकारों द्वारा अमान्य रस कौन सा है।
    उत्‍तर - वीभत्स रस । 
    ●  काव्य शास्त्र का प्राचीनतम नाम क्या था।
    उत्‍तर - अलंकार शास्त्र ।
    ●  रीति सम्प्रदाय के संस्थापक कौन थे।
    उत्‍तर - आचार्य वामन ।
    ●  हिन्दी में काव्य शास्त्र के प्रथम आचार्य कौन है।
    उत्‍तर - केशवदास ।
    ●  साहित्य शब्द् किस शब्द से बना है।
    उत्‍तर - सहित शब्द से बना है।
    ●  हिन्दी साहित्य में जीवनी साहित्य का प्रारम्भ कौन से युग में हुआ ।
    उत्‍तर - भारतेंदु युग में ।
    ●  हिन्‍दी भाषा और सांहित्‍य के लेखक है।
    उत्‍तर - श्‍यामसुंदरदास ।
    ●  मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है । यह किसने कहा ।
    उत्‍तर - अरस्तू ने ।
    ●  भाषा किसे कहते है।
    उत्‍तर - मनुष्य अपने मानसिक विचारों की अभिव्यक्ति के लिए जिस माध्यम का प्रयोग करता है। वह भाषा कहलाती है।
    ●  भाषा शब्द की उत्पत्ति कहॉ से हुई है।
    उत्‍तर - भाषा शब्द की उत्पत्ति संस्कृत के भाष धातु से हुई है।
    ●  सामान्य् शब्दों मे हम भाषा को किस तरह से व्यक्तु करेगे ।
    उत्‍तर - भाषा वह साधन है । जिसके द्वारा मनुष्य अपने भावों या विचारों को बोलकर या लिखकर दूसरे मनुष्यो तक पहुँचाता है।
    ●  भाषा को मोटे रूप में कितने भागों मे बांटा गया है।
    उत्‍तर - भाषा को मोटे रूप में 2 भागों मे बांटा गया है।
    1.लिखित भाषा
    2.मौखिक भाषा
    ●  हिन्दी भाषा का सम्बंन्ध किस लिपि से है।
    उत्‍तर - देवनागरी लिपि से है।
    ● बोलने वालो की संख्या की दृष्टि से हिन्दी का विश्व मे कौन सा स्थान है।
    उत्‍तर - तीसरा ।
    ●  सूरदास के काव्य किस भाषा में है।
    उत्‍तर - ब्रजभाषा में ।
    ● संविधान के किस अनुच्छे्द में कहा गया है – ‘’ संघ की राजभाषा हिन्दी् और लिपि देवनागरी होगी ‘’ ।
    उत्‍तर - 343 वें अनुच्छेद में कहॉ गया ।
    ●  हिन्दी शब्द‍ की व्युात्पात्ति कहॉ से हुई है।
    उत्‍तर - सिंधु से ।
    ● वर्तमान हिन्दी का प्रचलित रूप कैसा है।
    उत्‍तर - खडी बोली ।
    ●  जिन ध्वनियों के संयोग से शब्दों का निर्माण होता है। उन्हें क्या कहते है।
    उत्‍तर - वर्ण ।
    ●  स्वरों की संख्या कितनी मानी गई है।
    उत्‍तर - 11 ।
    ● हिन्दी मानक वर्ण माला में कुल कितने वर्ण है।
    उत्‍तर - 52 ।
    ● अन्तस्थ व्यंजनों की संख्या कितनी है।
    उत्‍तर - 4 ।
    ● हिन्दी वर्ण माला को कितने भागों में विभक्त किया गया है।
    उत्‍तर - दो भागो में ।
    ● हिन्दो वर्ण माला में स्पर्श व्यंजनों की संख्या कितनी है।
    उत्‍तर - 25 ।
    ●  मात्रा के आधार पर हिन्दी स्वंरों के दो भेद कौन से है।
    उत्‍तर - हस्वर और दीर्घ ।
    ●  ‘ क्ष ‘ वर्ण किसके योग से बना है।
    उत्‍तर - ‘’ क् + ष ‘’ से बना है।
    ●  हिन्दी वर्ण माला में व्यंजनों की संख्या है।
    उत्‍तर - 33 व्यंजन है।
    ● हिन्दी का पहला नाटक है।
    उत्‍तर - नहुष ।
    ● कबीरदास की भाषा थी।
    उत्‍तर - सधुक्कडी ।
    ●  कलम का जादूगर किसे कहा जाता है।
    उत्‍तर - रामवृक्ष बेनीपुरी को ।
    ● प्रगतिवाद उपयोगितावाद का दूसरा नाम है। यह कथन किसका है।
    उत्‍तर - रामविलास शर्मा ।
    ●  रामचरितमानस में कुल कितने काण्ड है।
    उत्‍तर - सात ।
    ●  हिन्दी साहित्य के इतिहास के रचयिता कौन है।
    उत्‍तर - आचार्य रामचन्द्र शुक्ल ।
    ●  गीत गोविन्द किस भाषा में है।
    उत्‍तर - संस्कृत भाषा में ।
    ●  लोक नायक किसको कहा जाता है।
    उत्‍तर - तुलसीदास जी को ।
    ●  इन्दिरापति किसे कहा जाता है।
    उत्‍तर - विष्णु को ।
    ●  पंचतंत्र क्या है।
    उत्‍तर - कहानी संग्रह ।
    ●  सामिष का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - आमिष ।
    ●  गमन का विलोम शब्‍द होगा ।
    उत्‍तर - आगमन ।

    ●  सम्‍मुख का विलोम शब्‍द है।
    उत्‍तर - विमुख ।
    ●  सुकाराथ का विलोम शब्‍द है।
    उत्‍तर - अकारथ ।
    ● अगानत का विलोम शब्‍द है।
    उत्‍तर - आगत ।
    ●  उपमान का विलोम शब्‍द है।
    उत्‍तर - उपमेय ।
    ●  मौन का विलोम शब्‍द है।
    उत्‍तर - मुखर ।
    ●  .............. प्रयास की अपेक्षा सामूहिक प्रयास का बल अधिक होता है।
    उत्‍तर - एकांगी ।
    ●  गांधी जी के अनुसार अत्‍याचार का उत्‍तर ................ से देना ही मनुष्‍यता है।
    उत्‍तर - सदाचार ।
    ●  श्रवण कुमार के माता पिता द्वारा दशरथ को दिया गया शाप भी उनके लिए ............... बन गया ।
    उत्‍तर - वरदान ।
    ●  सत्‍य बोलो मगर कटु सत्‍य मत बोलो । किस प्रकार का वाक्‍य है।
    उत्‍तर - संयुक्‍त्‍ा वाक्‍य ।
    ●  जब तक वह घर पहुँचा तब तक उसके पिता जा चुके थे। यह वाक्‍य किस प्रकार का है।
    उत्‍तर - मिश्रित वाक्‍य ।
    ●  यथासंभव अपना गृहकार्य शाम तक पूरा कर लो । मे वाक्‍य का प्रकार है।
    उत्‍तर - विधिवाचक ।
    ●  हिन्‍दू विश्‍वविद्यालय की स्‍थापना मदनमोहन मालवीय ने की थी । में वाक्‍य का प्रकार है।
    उत्‍तर - कर्तृवाच्‍य ।
    ●  व्‍यवहार में तुम बिलकुल वैसे ही हो, जैसे तुम्‍हारे पिताजी । में वाक्‍य का प्रकार है।
    उत्‍तर - मिश्र वाक्‍य ।
    ●  हम अपनी संस्‍कृति के बारे में कितना जानते है। में वाक्‍य का प्रकार है।
    उत्‍तर - प्रश्‍नवाचक ।
    ●  क्रिया के होने का समय तथा उसकी पूर्णता और अपूर्णता का बोध किससे होता है।
    उत्‍तर - काल से ।
    ●  मैने गीता पढ़ी वाक्‍य में वर्तमान काल का कौन सा भेद है।
    उत्‍तर - सामान्‍य वर्तमान ।
    ●  वाक्‍य में जो शब्‍द काम करने के अर्थ में आता है। उसे कहते है।
    उत्‍तर - कर्त्‍ता ।
    ●  मै खाना खा चुका हूँ । इस वाक्‍य में भूतकालिक भेद इंगित कीजिए ।
    उत्‍तर - पूर्ण भूत ।
    ●  क्रिया के साधन को बताने वाला शब्‍द कहलाता है।
    उत्‍तर - करण कारक ।
    ●  से विभक्ति किस कारक की है।
    उत्‍तर - करण । 
    ●  अपादान कारक की विभक्त्‍िा है।
    उत्‍तर - से, अलग ।
    ●  वह चटाई पर बैठा है। इस वाक्‍य में कौन सा कारक है।
    उत्‍तर - अधिकरण कारक ।
    ●  मोहन घोड़े से गिर पड़ा । इस वाक्‍य में कौन सा कारक है।
    उत्‍तर - अपादन कारक ।
    ●  वृक्ष से पत्‍ते गिरते है। इस वाक्‍य में इस कारक का चिन्‍ह है।
    उत्‍तर - अपादान ।
    ●  के लिए किस कारक का चिन्‍ह है।
    उत्‍तर - सम्‍प्रदान ।
    ●  कारक के कितने भेद होते है।
    उत्‍तर - 8 ।
    ●  जलमग्‍न में कौन सा कारक है।
    उत्‍तर - अधिकरण ।
    ● जलधारा में कारक होगा ।
    उत्‍तर - संबंध ।
    ●  देवेन्‍द्र में कौन सी सन्धि है।
    उत्‍तर - गुण ।
    ●  निस्‍सार का सही सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - नि: + सार ।
    ● गिरीश का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - गिरि + ईश ।
    ●  (अ + नि + आय) के मेल से कौन सा शब्‍द बनेगा ।
    उत्‍तर - अन्‍याय ।
    ● परिच्‍छेद में कौन सी संधि है।
    उत्‍तर - व्‍यंजन ।
    ● निश्‍चल में कौन सी संधि है।
    उत्‍तर - विसर्ग ।
    ● जगन्‍नाथ में कौन सी संधि है।
    उत्‍तर - व्‍यंजन ।
    ●  अत्‍याचार का संधि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - अति + आचार ।
    ●  सन्‍तोष का संधि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - सम् + तोष ।
    ●  सप्‍तर्षि का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - सप्‍त + ऋषि ।
    ●  प्रत्‍येक में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - अव्‍ययीभाव समास ।
    समास:- परिभाषा - दो या दो से अधिक शब्दो के सम्बन्ध बताने वाले शब्द को लोप कर बने सार्थक यौगिक शब्द को समास कहते है ।
    समास के 6 भेद होते है ।
         1 अव्ययीभाव समास
         2. तत्पुरूष समास
         3. कर्मधारय समास
         4. द्विगु समास
         5. द्वंद्व समास
         6. बहुव्रीहि समास
    ●  विशेषण और विशेष्‍य के योग से कौन सा समास बनता है।
    उत्‍तर - कर्मधारय समास ।
    ●  देशांतर में समास है।
    उत्‍तर - कर्मधाराय ।
    ●  रामानुज में समास है।
    उत्‍तर - बहुव्रीहि समास ।
    ● वनवास में समास है।
    उत्‍तर - तत्‍पुरूष समास ।
    ●  नीलकमल में समास है।
    उत्‍तर - कर्मधारय समास । 
    ● सदाचार का संधि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - सत् + आचार ।
    ●  महेन्‍द्र का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - महा + इन्‍द्र ।
    ●  हैदराबाद में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - तत्‍पुरूष समास ।
    ● रामकहानी में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - तत्‍पुरूष समास ।
    ●  चन्‍द्रमौलि में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - बहुव्रीहि समास ।
    ●  मंदबुद्धि में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - कर्मधाराय समास ।
    ●  नीलगाय में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - कर्मधारय समास ।
    ●  प्रतिमान में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - अव्‍ययीभाव समास ।
    ●  नरसिंह में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - कर्मधारय समास ।
    ●  शाखामृग में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - बहुव्रीहि समास ।
    ●  वीणापाणि में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - बहुव्रीहि समास ।
    ● नवयुवक में कौन सी समास है।
    उत्‍तर - कर्मधारय समास ।
    ●  विज्ञान शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - वि ।
    ●  निर्वाह शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - निर् ।
    ●  प्रतिकूल शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - प्रति ।
    ● चिरायु शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - चिर् ।
    ●  संस्‍कार शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - सम् ।
    ● बेइन्‍साफ शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - बे ।
    ●  प्रत्‍युत्‍पन्‍न‍मति शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - प्रति ।
    ●  प्रतिकूल शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - प्रति ।
    ●  सदाचार शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - सत् ।
    ● आदेश शब्‍द में कौन सा उपसर्ग प्रयुक्‍त है।
    उत्‍तर - आ ।
    ●  धुंधला शब्‍द में प्रयुक्‍त प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - ला ।
    ●  दोषहर्ता शब्‍द में प्रयुक्‍त प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - हर्ता ।
    ●  अनुज शब्‍द को सत्रीवाचक बनाने के लिए आप किस प्रत्‍यय का प्रयोग करेगें।
    उत्‍तर - आ ।
    ●  घुमक्‍कड़ शब्‍द में प्रयुक्‍त प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - अक्‍कड़ ।
    ●  ऊँचाई शब्‍द में प्रयुक्‍त प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - आई ।
    ●  जेठानी शब्‍द में प्रयुक्‍त प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - आनी ।
    ● प्राचीन शब्‍द में प्रयुक्‍त प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - ईन ।
    ●  भगोड़ा शब्‍द में कौन सा प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - ओड़ा ।
    ● कब्रिस्‍तान शब्‍द में प्रयुक्‍त प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - इस्‍तान ।
    ●  यादव शब्‍द में प्रयुक्‍त प्रत्‍यय है।
    उत्‍तर - व ।
    ●  जो बहुत बात करता हो ।
    उत्‍तर - वाचल ।
    ●  जहॉ पहुँचा न जा सके ।
    उत्‍तर - अगम ।
    ●  हर काम को देर से करने वाला ।
    उत्‍तर - दीर्घसूत्री ।
    ● जिसका भोजन दूध ही हो ।
    उत्‍तर - दुग्‍धाहारी ।
    ●  जिसके आर पार देखा जा सके ।
    उत्‍तर - पारदर्शी ।
    ●  दो पर्वतों के बीच की भूमि ।
    उत्‍तर - उपत्‍यका ।
    ●  बिना घर का ।
    उत्‍तर - अनिकेत ।
    ●  पुरूष एवं स्‍त्री का जोडा ।
    उत्‍तर - दम्‍पती ।
    ●  जिसने देश के साथ विश्‍वासघात किया हो ।
    उत्‍तर - देशद्रोही ।
    ● जो शत्रु की हत्‍या करता हो ।
    उत्‍तर - शत्रुघ्‍न ।
    ● जिन शब्दों के अन्त में ‘अ’ आता है, उन्हें क्या कहते है।
    उत्‍तर - अकारांत कहते है।
    ●  हिन्दी वर्ण माला में अयोगवाह वर्ण कौन से है।
    उत्‍तर - अं , अ: वर्ण अयोगवाह वर्ण है ।
    ● हंस मे लगा ( ं ) चिन्ह कहलाता है।
    उत्‍तर - अनुस्वार
    ● चॉद शब्द‍ में लगा ( ँ ) चिन्ह कहलाता है।
    उत्‍तर - अनुनासिक ।
    ●  भाषा की सबसे छोटी इकाई क्या है।
    उत्‍तर - वर्ण ।
    ● जिन शब्दों में किसी प्रकार का विकार या परिवर्तन नही होता, उसे क्या कहते है।
    उत्‍तर - तत्सम ।
    ● कार्य के होने का बोध कराने वाले शब्द को क्या् कहते है।
    उत्‍तर - क्रिया कहते है।
    ● भाषा के शुद्ध रूप का ज्ञान किससे होता है।
    उत्‍तर - व्याकरण से होता है।
    ● विशेषण जिस शब्द की विशेषता बताते है, उसे क्या कहते है।
    उत्‍तर - विशेष्ये ।
    ●  हिन्दी में लिंग का निर्धारण किस से होता है।
    उत्‍तर - संज्ञा से ।
    ● क्रिया का मूल रूप क्या् कहलाता है।
    उत्‍तर - धातु ।
    ●  सर्वनाम के साथ प्रयुक्त होने वाली विभक्तियॉं होती है।
    उत्‍तर - संश्लिष्ट । 
    ●  हिन्दी में कारक चिन्ह कितने होते है।
    उत्‍तर - 8 होते है।
    जबकि संस्कृत भाषा में कारक चिन्ह 7 होते है।
    ● संज्ञा कितने प्रकार की होती है।
    उत्‍तर - संज्ञा 5 प्रकार की होती है।
    1. व्यवक्ति वाचक संज्ञा
    2. जाति वाचक संज्ञा
    3. भाव वाचक संज्ञा
    4. समूह वाचक संज्ञा
    5. द्वव्या वाचक संज्ञा
    ● वे शब्द‍ जो विशेषण की भी विशेषता बतलाते है। उन्हे क्या कहते है।
    उत्‍तर - प्रविशेषण ।
    ●  सर्वनाम किसे कहते है।
    उत्‍तर - सर्वनाम वे शब्द कहलाते है। जो संज्ञा के स्थान पर प्रयोग मे लाये जाते है।
    जैसे – यह , वह , वे , उनका , इनका , इन्हे आदि
    ●  सर्वनाम के कितने भेद होते है।
    उत्‍तर - सर्वनाम के 6 भेद होते है।
    1. पुरूषवाचक सर्वनाम
    2. निश्चवयवाचक सर्वनाम
    3. अनिश्चायवाचक सर्वनाम
    4. प्रश्नावाचक सर्वनाम
    5. संबंधवाचक सर्वनाम
    6. निजवाचक सर्वनाम

    ●  क्रिया किसे कहते है।
    उत्‍तर - जिस शब्द – से किसी काम के करने या होने का बोध हो उसे क्रिया कहते है।
    जैसे – खाना , हँसना , रोना , बैठना आदि
    ●  क्रिया मुख्य रूप से कितने प्रकार की होती है।
    उत्‍तर - मुख्य रूप से क्रिया 2 प्रकार की होती है।
    1. अकर्मक क्रिया
    2. सकर्मक क्रिया
    ● काल कितने प्रकार के होते है।
    उत्‍तर - काल 3 प्रकार के होते है।
    1. वर्तमान काल
    2. भूतकाल
    3. भविष्य काल
    ● 'श' व्‍यंजन का उच्‍चारण स्‍थान कौन सा है।
    उत्‍तर - तालु ।
    ●  'व' वर्ण का उच्‍चारण स्‍थान कौन सा है ।
    उत्‍तर - दन्‍त + ओष्‍ठ ।
    ● 'ड.' का उच्‍चारण स्‍थान क्‍या है।
    उत्‍तर - कण्‍ठ ।
    ● 'क' वर्ण उच्‍चारण की दृष्टि से क्‍या है।
    उत्‍तर - कंठ्य ।
    ●  वर्ग के द्वितीय व चतुर्थ व्‍यंजन क्‍या कहलाते है।
    उत्‍तर - महाप्राण ।
    ●  'ए' और 'ऐ' का उच्‍चारण स्‍थान है।
    उत्‍तर - कंठतालु ।
    ●  'घ' का उच्‍चारण स्‍थान क्‍या है।
    उत्‍तर - कंठ ।
    ●  वर्ण के प्रथम, तृतीय व पंचम वर्ण क्‍या कहलाते है।
    उत्‍तर - अल्‍पप्राण ।
    ●  मात्रा के आधार पर हिन्‍दी स्‍वरों के दो भेद कौन से है।
    उत्‍तर - हस्‍व और दीर्घ ।
    ●  सर्वनाम के साथ प्रयुक्‍त्‍ा होने वाली विभक्तियॉ होती है ।
    उत्‍तर - संश्लिष्‍ट ।
    ●  'शिक्षक विद्यार्थी को हिन्‍दी पढ़ाते है। वाक्‍य में क्रिया के किस रूप का प्रयोग हुआ है।
    उत्‍तर - द्विकर्मक क्रिया ।
    ●  'मुझे' किस प्रकार का सर्वनाम है।
    उत्‍तर - उत्‍तम पुरूष ।
    ●  मानव शब्‍द का विशेषण बनेगा ।
    उत्‍तर - मानवीय ।
    ●  चिडि़या आकाश में उड़ रही है। उस वाक्‍य में उड़ रही क्रिया किस प्रकार की है।
    उत्‍तर - अकर्मक ।
    ● पशु शब्‍द का विशेषण है।
    उत्‍तर - पाशविक ।
    ●  नेत्री शब्‍द का पुल्लिंग रूप है।
    उत्‍तर - नेता । 
    ●  अनायस में समास है।
    उत्‍तर - तत्‍पुरूष समास ।
    ●  लोकप्रिय शब्‍द में समास है।
    उत्‍तर - कर्मधारय समास ।
    ●  कन्‍यादान में समास है।
    उत्‍तर - तत्‍पुरूष समास ।
    ●  चौराहा में समास है।
    उत्‍तर - द्विगु समास ।
    ●  महीश का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - मही + ईश ।
    ●  शुभेच्‍छा का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - शुभ + इच्‍छा ।
    ● भानूदय का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - भानु + उदय ।
    ● नवोढ़ा का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - नव + ऊढ़ा । 
    ● पावक का सन्धि विच्‍छेद होगा । 
    उत्‍तर - पौ + अक ।
    ●  दुश्‍चरित्र का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - दु: + चरित्र ।
    ●  मृगेन्‍द्र का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - मृग + इन्‍द्र ।
    ● सुरेन्‍द्र का सन्धि विच्‍छेद होगा ।
    उत्‍तर - सुर + इन्‍द्र । 
    ●  उत्‍कर्ष का विशेषण क्‍या होगा ।
    उत्‍तर - उत्‍कृष्‍ट ।
    ● काम का तत्‍सम रूप है।
    उत्‍तर - कर्म ।
    ●  दूध का तत्‍सम रूप क्‍या है।
    उत्‍तर - दुग्‍ध ।
    ●  प वर्ग का उच्‍चारण मुँह के किस भाग से होता है।
    उत्‍तर - ओष्‍ठ ।
    ●  च, छ, ज, झ व्‍यंजन के उच्‍चारण को मुखांगो के व्‍यवहार के आधार पर क्‍या नाम दिया जाता है।
    उत्‍तर - तालव्‍य ।
    ● मुझे किस प्रकार का सर्वनाम है।
    उत्‍तर - उत्‍तम पुरूष सर्वनाम ।
    ●  वह धीरे धीरे आ रहा है। वाक्‍य अव्‍यय के किस भेद के अन्‍तर्गत आता है।
    उत्‍तर - क्रिया विशेषण ।
    ●  मानव शब्‍द से विशेषण बनेगा ।
    उत्‍तर - मानवीय ।
    ●  चिडि़या आकाश में उड़ रही है। इस वाक्‍य में उड़ रही क्रिया किस प्रकार की है।
    उत्‍तर - अकर्मक ।
    ●  बुढ़ापा भी एक प्रकार का अभिशाप है। इस वाक्‍य में बुढापा शब्‍द की संज्ञा का भेद बताइए ।
    उत्‍तर - भाववाचक संज्ञा ।
    ●  आलस्‍य शब्‍द का विशेषण क्‍या है।
    उत्‍तर - आलसी ।
    ●  प्रवृत्ति का विलोम शब्‍द है।
    उत्‍तर - निवृत्ति ।
    ●  अंतरंग का विलोम शब्‍द है।
    उत्‍तर - बहिरंग ।
    ●  गुप्‍त का विलोम शब्‍द है।
    उत्‍तर - प्रकट ।

    जानकारी अच्छी लगी तो comment और share करना मत भुलिएगा

    No comments

    Post Top Ad

    Post Bottom Ad