30 easy tips to relieve stress - तनाव दूर करने के 30 आसान टिप्स - Exam Prepare -->

Latest

Apr 6, 2018

30 easy tips to relieve stress - तनाव दूर करने के 30 आसान टिप्स

तनाव - Stress

► तनाव व्यक्ति की शारीरिक और मनोवैज्ञानिक अवस्था का नाम है जो उसमें उत्तेजना और संतुलन उत्पन्न न कर उसे परिस्थिति का सामना करने के लिए क्रियाशील बनाता है। हमारे मन में कई प्रकार की प्रेरणाएं आवश्यकताएं प्रयोजन लक्ष्य और अभिप्रेरणा में पाई जाती है। जब भी समुचित रुप में तृप्त नहीं हो नहीं पाती तब मन में एक प्रकार का खिंचाव कुंठा और संघर्ष उत्पन्न होता है जिसे तनाव कहते हैं।
► आज हर व्यक्ति खुद को सफलता के लिए तैयार कर रहा है। अपनी life को बेहतर बनाने में लगा हुआ है। एक विद्यार्थी जहाँ अपनी परीक्षा में अच्छा करना चाहता है वही एक बिजनेसमेन अपने बिजनेस में मुनाफा कमाना चाहता है। हम सब लोग एक उन्नत जीवन Better Life के लिए Preparing करने में लगे हुए है।
► लेकिन सफलता की इस दौड़ Race में कब हम लोग तनाव की चपेट में आ जाते है पता ही नहीं चलता। माता-पिता को अपने बच्चो के भविष्य की फ़िक्र है तो एक युवाओं को अपने Career की कोई अपनी Relationship से संतुष्ट नहीं तो कोई अपनी Job से परेशान है।
► यानि कहने का अर्थ यह है कि अधिकतर लोग आज अपना जीवन टेंशन में बिता रहे है। लोगो के पास सारी सुख-सुविधा होने के बाद भी वे परेशान है। तनाव के अधिक बढ़ जाने से लोगो को कई प्रकार के मन के रोग हो रहे है जिसमे चिन्ता, हिस्टीरिया, डिप्रेशन, पैनिक और डिसऑर्डर आदि शामिल है।

तनाव का मतलब क्या है-

तनाव शरीर की वह स्थिति होती है जब हमारी लाइफ में अचानक कोई बदलाव हो जाता है जिससे हमारे शरीर में भावनात्मक और शारीरिक प्रतिक्रिया होती है। जब हमारे मस्तिष्क को अच्छी तरह से आराम नहीं मिल पाता है तो हमारा Mind थक जाता है और थका हुआ माइंड हमें Strech की ओर ले जाता है।


इस कारण से यह तनाव हमारे शारीरिक, मानसिक और मनोवैज्ञानिक कार्यप्रणाली को गड़बड़ा देता है और हमारे कई हार्मोन्स को बढ़ा देता है। तनाव के अधिक बढ़ जाने से व्यक्ति डिप्रेशन में चले जाता है।
तनाव में रहने के लक्षण क्या हैं -
वैसे तो तनाव के कई सारे लक्षण होते है लेकिन यहाँ हम आपको कुछ प्रमुख लक्षण बता रहे है जो किसी व्यक्ति के तनाव में होने की स्थिति को दर्शाता है -

► नींद का गायब रहना।
► पाचन क्रिया का धीमा हो जाना।
► रक्त संचार का ठीक न होना।
► वजन घट जाना।
► दिल का तेजी से धड़कते रहना।
► अचानक ब्लड प्रेशर बढ़ जाना।
► थकान महसूस करना।
► मन का उदास रहना।
► सांसे अचानक तेज होना।

तनाव के कुछ प्रमुख कारण-

► प्रेमपूर्ण रिश्तो में खटास हो जाना।
► वैवाहिक जीवन में परेशानी होना।
► किसी काम को पूरा करने के लिए समय का अभाव होना।
► किसी गंभीर बीमारी का होना।
► आर्थिक समस्याएं ठीक न होना।
► परिवार में समस्याएँ होना।
► नौकरी का अचानक बदल जाना या नौकरी से निकाल देना।
► बच्चो की फ़िक्र रहना।
► अपने नजदीकी रिश्तो में किसी की मृत्यु हो जाना।
► कर्ज का होना।
► पैसो की तंगी होना।
► अपने जीवन से संतुष्ट न हो पाना।
► किसी चीज के अपेक्षा रखना।
► सपनो का पूरा न हो पाना।
► परीक्षा में फ़ैल हो जाना।
► नौकरी न लग पाना।

तनाव को दूर करने के आसान उपाय :  कैसे बचे तनाव से?

अगर तनाव को सही समय पर पहचान लिया जाए तो इससे निकलना काफी आसान हो जाता है। यहाँ पर आपको तनाव से निकलने के तरीके बताये जा रहे है। आप तनाव से निकलने के लिए इन्हें अपनाना शुरू करें -

1. आदर्श जीवन सही लाइफस्टाइल चुने -

हमारी लाइफस्टाइल हमें succes बना सकती है तो हमें असफल भी कर सकती है। इसलिए हमें अपनी दिनचर्या को सही बनाना चाहिए। जिस प्रकार से नियत समय पर सोना जरुरी है, ठीक उसी प्रकार से सुबह नियत समय पर उठना भी जरुरी है। उठने के बाद योग और व्यायाम अवश्य करे। इसके बाद पौष्टिक नाश्ता ले, भोजन में पौषक तत्वों को शामिल करे। यदि आपको इसमें परेशानी हो रही है तो किसी एक्सपर्ट से या डाइटीशियन की हेल्प ले।

2. अपने समय का प्रबंधन करे -

आज के भागमभाग वाले समय में यह बहुत जरुरी है की आप अपने दिनभर के कार्यो की सूची बनाये और सबसे पहले जरुरी कार्यो को पूरा करे। जरुरी कार्यो को टाले नहीं अन्यथा वे बाद में तनाव का कारण बनेंगे। आप अपने उन कार्यो को दिन में पूरा करने की सोचे जो आपके लिए बहुत जरुरी है। अपने समय को व्यर्थ में न गवाएँ।

3. सकारात्मक सोच जरुरी है -

चाहे कैसी भी स्थितियां आये। अपनी सोच सकारात्मक रखे। अगर आपकी सोच नकारात्मक हो गयी तो आप किसी भी समस्या का समाधान नहीं कर सकते। साथ में आपको इससे केवल परेशानी ही होगी जबकि पॉजिटिव थिंकिंग के बल पर आप बड़ी से बड़ी समस्या का हल आसानी से निकाल सकते है. नकारात्मक सोचने से हमारी carry करने की क्षमता भी प्रभावित होती है।

4. स्वयं के लिए समय निकाले -

जिन्दगी जीने के लिए जितना जरुरी कार्य करना है उतना ही जरुरी है अपने लिए समय निकालना। केवल काम करते-करते जिन्दगी में एकरसता आ जाती है। इस एकरसता को तोडना जरुरी है, इसके टूटने पर ही नयी उर्जा मिलती है। समय-समय पर तमाम व्यस्तताओ के बीच मौज-मस्ती के लिए समय निकालना बहुत जरुरी है।

स्वयं को थोडा अधिक समय देने का प्रयास करें। ज़रूरी नहीं है कि हर काम घड़ी देखकर किया जाए। समय की कमी हो तो मीटिंग टाल दें। यदि फोन या ई-मेल से बात बनती हो तो मिलने की क्या ज़रुरत है ? यदि यह संभव न हो तो मीटिंग का कोई वक़्त फिक्स न करें। इस तरह कभी-कभार बचने वाले थोड़े-थोड़े समय को स्वयं को देने में या पसंदीदा काम करने में लगायें।

5. संबंधियों के साथ रहे -

किसी ने बहुत ही सही कहा है की ख़ुशी के पल को चार संबंधियों संग बांटने पर वह चार गुना और बढ़ जाती है, जबकि दुःख को चार संबंधियों संग बांटने पर वह एक चौथाई ही रह जाता है। इसलिए सुख हो या दुःख उसे अपने संबंधियों के साथ जरुर शेयर करे। इसके साथ ही समय-समय पर अपने संबंधियों से मिलने का मौका निकाले। ऐसा न हो की केवल जरुरत के समय ही आप उनको याद करे। हमारा जीवन संबंधियों और रिश्तेदारों का साथ मिलने से और बेहतर बन जाता है।

6. दूसरों की मदद करें -

दूसरो की मदद करना एक बहुत ही उच्च कोटि का गुण होता है। जो आपको बहुत खास बना देता है। अगर आप तनाव में हो और तब आप अगर किसीगरीब की या जरूरतमंद व्यक्ति की सहायता करते हो तो निश्चित है की आपका तनाव बहुत हद तक कम हो जायेगा। किसी की help करने से मिलने वाली सन्तुष्टि हमारे stress level को कम करती है और हमें तनाव से मुक्त होने में help करती है। जब दूसरों का जीवन बेहतर होगा तभी आपका जीवन बेहतर बनेगा।

7. सुबह जल्दी उठें -

अगर सभी से यह पूछा जाए की आप सुबह late में उठे तो लगभग सभी लोग यही चाहेंगे। आराम हर कोई करना चाहता है लेकिन यह आराम हमारे लिए हराम भी हो सकता है। देर से उठना कई परेशानियों की जड़ है। किसी दिन अगर आप कुछ समय लेट में उठते हो तो आपने जरुर यह नोट किया होगा की आपको सभी काम करने के लिए बड़ी मशक्कत करनी पड़ती है। हमारे काम पर इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। जल्दी उठने की आदत डालें। यह आपको कई फायदे देगा और साथ में आपको तनाव से भी दूर रखेगा।

8. व्यायाम करें और तनाव भगाएँ -

बचपन से हम सुनते आ रहे है की हमें रोजाना व्यायाम करना चाहिए। पर हम कभी भी इस बात को सीरियसली नहीं लेते। हम व्यायाम करने के लिए आलस करते है। अगर आप daily व्यायाम करते हो तो आपको तनाव को कम करने में बहुत मदद मिलती है क्योंकि व्यायाम के समय और बाद में हमारी मांसपेशियों की बहुत अच्छी एक्सरासाइज़ होती है और उन्हें आराम भी मिलता है। जिस से हमें नींद लेने में आसानी होती है और हमारा मूड भी अच्छा रहता है। इसलिए रोज व्यायाम जरुर करे।

9. दोस्तों से बात करें -

आपको जब कभी भी लगता है की आप तनाव में है। आप तब इस तनाव से निकलने के लिए अपने दोस्तों की मदद ले सकते है। आप अपने दोस्तों सेमिलने के लिए जा सकते है या उनसे फ़ोन पर बात कर सकते है। अपने जिगरी दोस्तों से जब आपकी बात होगी तो आपका तनाव इससे कम हो जायेगा। दोस्तों के सुख-दुःख भरी बातें सुनकर आपको जरुर तनाव से राहत मिलेगी।

10. नशे से दूर रहे -

अधिकतर लोग जो सबसे बड़ी गलती करते है वह है तनाव के समय नशा करना। तनाव में जब कोई व्यक्ति होता है तब उस किसी सहारे की जरुरत पड़ती है लेकिन अधिकांश लोग इसका उपचार गलत ढूंढते है और इससे निकलने के लिए नशे का सहारा लेते है जो की बिलकुल भी उचित नहीं।

नशे (तम्बाकू, शराब) का सेवन करने से हमारेसोचने की क्षमता पर काफी Negative Effect पड़ता है। जिससे हमारा तनाव कम होने के बजाय और ज्यादा बढ़ जाता है। इसलिए इससे जितनी दूर हो सके दूर ही रहे।

11. केला खाएं और तनाव कम करे -

केले को तनाव को दूर करने के लिए सबसे अच्छा फल माना जाता है। यह तनाव को दूर तो करता ही है साथ में हमारे स्वास्थ्य के लिए भी यह बहुत उपयोगी फल है। इसलिए आप केले का भरपूर इस्तेमाल करे।

12. पोटेशियम ले -

पोटेशियम एक मिनरल है, जो हार्टबीट को सामान्य रखने में मदद करता है और ऑक्सीजन को मस्तिष्क तक पहुंचाता है। यह शरीर में पानी के संतुलन को भी नियमित बनाए रखता है। जब हम मानसिक तौर पर तनाव की चपेट में होते हैं तो हमारा मेटाबॉलिक रेट बढ़ने लगता है जिसके कारण शरीर में पोटेशियम का स्तर गिरने लगता है। इसे फिर से संतुलित करने के लिए हमें हाई पोटेशियमयुक्त पदार्थों की जरुरत होती है। इसलिए आप पोटेशियम use करे।

13. अपनी Hobby को वक्त दे -

हमारी हॉबी हमें कभी भी अकेला नहीं रखती। यह हमारे अन्दर जीने की इच्छा को बनाये रखती है और हमारे अन्दर Positivity लाती है। जो हमने खुश रखने में मदद करती है। आप अपनी hobby (like; cricket, games, music, trevling, walking, dansing, painting) के लिए समय निकाले और अपने तनाव को दूर भगाए।

14. ठन्डे पानी से नहाये -

तनाव दूर भगाने का यह मेरा सबसे कारगर हथियार है। मुझे जब भी तनाव घेरता है तब मैं तनाव से निकलने के लिए ठन्डे पानी से नहाता हूँ। आपको जब भी तनाव घेरे आप ठन्डे पानी से नहाये और जमकर नहाये। जब ठन्डे पानी की धारा हमारे शरीर में पड़ती है तो हमारा शरीर हमारे तनाव के लेवल को कम कर देता है और हमारे अंदर तनाव को कम करने के हारमोंस प्रोड्यूस हो जाते है।

15. गहरी नींद ले -

गहरी नींद लेना तनाव दूर करने का सबसे उपयुक्त तरीका होता है। आप खुद इसे आजमा के देख लें। जब हम गहरी नींद लेते है तो तब हमें काफी relaxe मिलता है और हम बेहतर महसूस करते है। आप जब भी तनाव महसूस हो आप एक अच्छी सी नींद ले। वैसे एक दिन में हर व्यक्ति को ७ से ८ घंटे की नींद अवश्य लेनी चाहिए।

16. योगा करें -

आज योगा हमारे कई बीमारियों को दूर कर रहा है। योग में वह शक्ति है जो किसी भी बीमारी को दूर कर सकती है। तनाव को दूर करने के लिए योग का महत्व और अधिक बढ़ जाता है क्योंकि योग हमें तनाव से मुक्त कर देता है। आप तनाव से निकलने के लिए योग करे जिसमे आप अनुलोम-विलोम प्रणायाम अच्छा कारगार है।

17. नहीं कहना भी सीखे -

अधिकांश लोग अपने दोस्तों या सम्बन्धियों से कई बार अनावश्यक रूप से हाँ बोल देते है यानी किसी कार्य को करने के लिए उनका काम भी अपने ऊपरले लेते है। जो उचित नहीं है, अगर आप खुद को पूरी तरह से फिट महसूस करते है तब ही हाँ बोले वरना खुद को अनावश्यक मुसीबत में न डाले। पहले खुद को प्राथमिकता दे उसके बाद दूसरो को। अगर आप किसी चीज को बेहतर ढंग से नहीं कर पाते हो तो उसे जबरदस्ती करने के लिए कभी तैयार मत रहो। खुद के लिए कुछ चीजो को ”नहीं” कहने से कुछ आप तनाव से बच जायेंगे।

18. हँसाने वाली चीजो से जुड़े -

तनाव में व्यक्ति मुरझाया नजर आता है उसका चेहरा Sad रहता है इससे निकलने के लिए आप ऐसी चीजो से जुड़ सकते है जो आपको अच्छा feel कराये आपको ख़ुशी दे। आप टीवी देख सकते है, हँसने वाले सीरियल देख सकते है। youtube में हजारो हास्य विडियो देख सकते है। जोक्स पढ़ सकते है और उन लोगो के साथ रह सकते है जो हँसाने में माहिर होते है। ऐसे में आप अच्छा महसूस करेंगे।

19. रोजाना ध्यान करे -

प्रतिदिन कुछ मिनट ध्यान करने से मन को शांति मिलती है। इससे मानसिक, भावनात्मक व शारीरिक राहत महसूस होगी। ध्यान करने से व्यक्ति एक अलग ही दुनिया में पहुँच जाता है जहाँ से लौटने पर उसे अपनी यह दुनिया में काफी सुन्दर लगती है। जी हाँ, जब हम ध्यान में होते है तब हमें अपनी कमजोरियां और हमारी मजबूती दिखती है जो खुद को बेहतर करने में सहायक होती है। ध्यान करने से हमें एक सुकून मिलता है और मन खुशनुमा हो जाता है।

20. घूमने की योजना बनाये -

अगर आप लम्बे समय से तनाव की चपेट में है तो घूमना आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगा। घूमने से हमारी लाइफ में एक बदलाव आता है जो हमारी नेगटिविटी को दूर कर देता है और हमें सकारात्मक बना देता है। अपना समय निकाल कर घूमने की योजना बनाये। जब आप अपने इस माहौल से निकलोगे और आप घूमने से एक नए माहौल में पहुँच जाओगे। जो आपको एक नयी उर्जा देगा और आप अपने तनाव को दूर करने में सक्षम होओगे

21. पसंदीदा Music सुने -

टेंशन के समय आप अपना Favourate music सुने। संगीत हमें शांत करता है और हमें बोरियत से बाहर निकालता है। आप अपने मूड के हिसाब से अपने गाने सुन सकते है। संगीत में बहुत शक्ति होती है जो हमें खालीपन से उबरने में सहायक होती है और हमारे Real life को संगीत के माध्यम से दर्शाती है। इसलिए म्यूजिक सुने और अपना तनाव दूर करे।\

22. अध्यात्म को अपनाये -

आपने धार्मिक व्यक्तियों को जरुर देखा होगा उनमे एक बात Common होती है और वह Strees level का जीरो होना। उनको आध्यात्म से एक सकारात्मक उर्जा मिलती है। आप धार्मिक साहित्य नियम से पढे और धार्मिक संगीत सुने। अपने आचरण मन, वचन, कर्म को शुद्धता की ओर ले जाए. दया, प्रेम सहिष्णुता, सरलता को सबसे ऊपर रखे। आध्यातिम्क चीजे हमें नकारात्मक सोच से बाहर निकालती है।

23. झूठ कभी भी न बोले -

झूठ बोलने का हमारे तनाव से बहुत हद तक सम्बन्ध होता है। जब हम किसी भी व्यक्ति से झूठ बोलते है तो हम एक बहुत बड़ा गुनाह करते है और इसकी सजा हमारे शरीर की अदालत यानी हमारी आत्मा देती है। जो सबकुछ जानती है। अगर आप किसी व्यक्ति से झूठ बोलते हो तो यह हमारे तनाव का कारण बन सकता है। इसलिये झूठ बोलने से बचे और सच बोलने की आदत डाल ले।

24. अच्छी किताबे पढ़े -

जी हाँ, तनाव के समय किताबें हमें तनाव मुक्त रख सकती है। आप ऐसी किताबो को पढ़ सकते है जो आपको एक नयी शिक्षा देते हो, जीवन में आगेबढ़ाने की सीख देते हो, आप महान व्यक्तियों की जीवनी भी पढ़ सकते हो। इसके अलावा आप इन्टरनेट पर हमारा ब्लॉग भी पढ़ सकते हो जो आपको लगातार कुछ नया और बेहतर जीवन जीने की शिक्षा देगा।

25. बेकार बातो को टाल दे -

अधिकांश लोग इसलिए तनाव में रहते है क्योंकि वो खुद की तुलना दूसरो से करते है जिसमे उनके दोस्त, रिश्तेदार, सहकर्मी आदि होते है। ऐसा करनाकभी भी ठीक नहीं क्योंकि हर व्यक्ति की Condition हमसे अलग होती है. आप उन बातो को कभी भी ज्यादा तव्वजो न दे जिनका आपके जीवन से ज्यादा मतलब नहीं होता। छोटी-छोटी बातो को भूल जाए। खुद को उन्ही कार्यो या बातो में लगाये जो आपको Improve करे। बेकार की बातो से दूरी बनाये रखना ही ठीक है।

26. बुरी आदतों को त्याग दे -

मनुष्य का जीवन ऐसा है जहाँ वह बुरी आदतों को अपनाकर अपने शरीर का नाश करता है। जब हम पैदा होते है तब हम स्वस्थ होते है और हमारा शरीर के सभी अंग बिलकुल ठीक होते है किन्तु हम अपनी बुरी आदतों के कारण अपने शरीर का नाश कर देते है और एक समय ऐसा आता है जब हमारा शरीर इन बुरी आदतों से इतना भर जाता है की व्यक्ति की मौत हो जाती है।

इसलिए आप खुद के अन्दर झांक कर देखे की आप में कौन सी बुरी आदते है। सभी लोगो में कोई न कोई बुरी आदत होती है। इसलिए आप अपनी बुरी आदतों को समय रहते दूर कर ले वरना तनाव के कारण आपको इसका बहुत बड़ा नुकसान उठाना पड़ेगा।

27. एक समय में एक काम करे -

आज के ज़माने में लोग हर काम को फटाफट निपटाना चाहते है जिस कारण वे एक समय में सभी कार्य करने की सोचते है और इस प्रयास में वे 
एक बहुत बड़ी mistake करते है. वह अपने किसी Particular work पर focus नहीं रख पाते। जिस कारण उनके सारे काम सही ढंग से पूरे नहीं होते। नतीजा यह होता है की उन्हें तनाव अपनी गिरफ्त में ले लेता है। आप ऐसा करने से बचे और एक समय में एक ही काम को वक्त दे।

28. अच्छा भोजन और आहार ले -

अच्छे स्वास्थ्य के लिए हमारा अच्छा भोजन करना अति आवश्यक हो जाता है। जब हम अच्छा खायेंगे तभी हम अच्छा सोच पाएंगे। तनाव से निकलने में हमें अच्छा और पौष्टिक भोजन मदद करता है। अगर आप लम्बे समय से तनाव में है तो आप अपने भोजन में प्रोटीन, फल और सब्जियों का भरपूर इस्तेमाल करे। चाय और कॉफ़ी का उपयोग कम ही करे।

29. मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान दे -

हम जब तनाव में होते है तब हमारा मानसिक स्वास्थ्य सबसे ज्यादा प्रभावित होता है। मानसिक स्वास्थ्य को ठीक करने के लिए हमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा चाहिए होती है। ये हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए ऊर्जा के प्रमुख स्रोत है। इसलिए अपने भोजन में इन चीजो को प्रमुख रूप से तरजीह दे। जब आपका मन अच्छा होगा तभी आप अच्छा सोच पाएंगे।

30. डॉक्टर से सलाह ले -

अगर ऊपर बताये गये सभी टिप्स को आजमाने के बाद भी आपके तनाव में कोई कमी नहीं आती है तो आप डॉक्टर से इस बारे में सलाह ले। उन्हें अपनेतनाव के बारे में बताये जिससे वे आपकी पूरी help करे।
दोस्तों ! हमने इस आलेख में तनाव दूर करने के अनेक उपाय आपको बताये है। आप अपने तनाव को दूर करने के लिए इन्हें आज से ही आजमाना शुरू कर दे।

No comments:

Post a Comment